Recent Posts

June 17, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

जिला जनसंपर्क कार्यालय, पूर्वी सिंहभूम, जमशेदपुर: उपायुक्त की पहल पर कल्याण अस्पताल, बनमाकड़ी में लगा एक दिवसीय हेल्थ कैम्प*

2 min read

 

▪️346 लोगों की हुई स्वास्थ्य जांच, आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए आए 34 आवेदन

▪️सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य व्यवस्था पहुंचे, लोग लाभान्वित हों इसपर प्रशासन की प्राथमिकता… उपायुक्त

गुड़ाबंदा प्रखंड के सुदूर बनमाकड़ी पंचायत स्थित कल्याण अस्पताल में उपायुक्त श्रीमती विजया जाधव की पहल पर दोबारा हेल्थ कैम्प का आयोजन आज किया गया । मौके पर निदेशक डीआरडीए श्री सौरभ सिन्हा, एसडीए घाटशिला श्री सत्यवीर रजक, बीडीओ डुमरिया श्री साधुचरण देवगम, बीडीओ गुड़ांबादा सुश्री स्मिता नगेसिया, कार्यपालक दण्डाधिकारी श्री केशव भारती मौजूद रहे तथा कैम्प के सफल आयोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस कैम्प में प्रखंड अतंर्गत सभी पंचायतों से ग्रामीण अपना स्वास्थ्य जांच कराने पहुंचे । ह्यूमन वेलफेयर ट्रस्ट, जमशेदपुर के सहयोग से जिला प्रशासन द्वारा आयोजित इस हेल्थ कैम्प में 346 लोगों की स्वास्थ्य जांच विशेषज्ञ चिकित्सकों की निगरानी में किया गया। कैम्प में जेनरल ओपीडी के 102 मरीज, पीडियाट्रीक 19, ऑर्थो 32, आंख जांच 26, डेंटल 4, एएनसी 13, हीमोग्लोबिन जांच 20, टीबी 14, एक्स रे पॉजिटिव टीबी 01, एनसीडी 42, परिवार नियोजन 26 तथा 04 लोगों का आभा कार्ड बनाया गया वहीं 36 आवेदन आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए प्राप्त हुए। कैम्प में डॉ ज़ैनुल आबेदीन(शिशु रोग विशेषज्ञ), डॉ संदीप टुडू (हड्डी रोग विशेषज्ञ), डॉ. जहांजेब खान( जनरल मेडिसिन), डॉ नफीस अनवर (शिशु रोग विशेषज्ञ) तथा नेत्र जांच के लिए डॉ. यासिर शुजा, मो इमरान, तकनीशियन नजमुल हसन, आनंद कुमार मिश्रा की निगरानी में स्वास्थ्य जांच किया गया।

विदित हो कि गुड़ाबांदा प्रखंड में सीएचसी नहीं होने के कारण वहां के रहवासियों को चिकित्सीय जांच के लिए कल्याण अस्पताल पर निर्भर रहना पड़ता है । पिछले कुछ महीनों में कल्याण अस्पताल के लचर चिकित्सीय व्यवस्था का मामला संज्ञान में आने के बाद खुद जिले की उपायुक्त ने अस्पताल का निरीक्षण किया था, जहां आवश्यक चिकित्सीय सुविधा बहाल करने के साथ-साथ उन्होने नियमित हेल्थ कैम्प आयोजित करने के निर्देश दिए थे जिसके बाद ये दूसरा मौका है जब हेल्थ कैम्प आयोजित किया गया । उपायुक्त ने कैम्प के आयोजन को लेकर कहा कि सुदूर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से कैम्प का आयोजन किया जा रहा है ताकि उन्हें नजदीकी प्रखंड, अनुमंडल अस्पताल या जिला के अस्पतालों में छोटी मोटी बीमारियों के लिए दौड़ नहीं लगाना पड़े ।

इस अवसर पर प्रखंड प्रमुख श्री शुभजीत मुण्डा, उप प्रमुख श्री रतन लाल राउत, मुखिया श्री मनमोथ देहरी, करिया हेम्ब्रम, सुमित्रा बास्के, फुलमनी मुर्मू, फुलमनी माझी, सलमा किस्कु तथा प्रखंड कर्मी उपस्थित थे।

▪️Health checkup of 346 people, 34 applications came for making Ayushman card

▪️Health system should reach remote rural areas, people should be benefitted, priority of administration… Deputy Commissioner

 

On the initiative of Deputy Commissioner Smt. Vijaya Jadhav, a health camp was organized again today at Kalyan Hospital located in remote Banmakadi Panchayat of Gudabanda Block. Director DRDA Mr. Saurabh Sinha, SDA Ghatshila Mr. Satyaveer Rajak, BDO Dumaria Mr. Sadhucharan Devgam, BDO Gudambada Ms. Smita Nagesia, Executive Magistrate Mr. Keshav Bharti were present on the occasion and played an important role in the successful organization of the camp. In this camp, villagers from all the panchayats under the block came to get their health check-up done. Organized by the District Administration in collaboration with Human Welfare Trust, Jamshedpur, health check-up of 346 people was done under the supervision of expert doctors in this health camp. 102 patients of General OPD, Pediatric 19, Ortho 32, Eye checkup 26, Dental 4, ANC 13, Hemoglobin test 20, TB 14, X ray positive TB 01, NCD 42, Family planning 26 and Aura card of 04 people were made in the camp While Gaya, 36 applications were received for making Ayushman cards. In the camp, Dr. Zainul Abedin (Pediatrician), Dr. Sandeep Tudu (Orthopaedic), Dr. Jahanzeb Khan (General Medicine), Dr. Nafees Anwar (Pediatrician) and Dr. Yasir Shuja, Mohd Imran, for eye check-up. Health check-up was done under the supervision of Technician Nazmul Hasan, Anand Kumar Mishra.

It may be noted that due to absence of CHC in Gudbanda block, residents have to depend on Kalyan Hospital for medical examination. In the last few months, after coming to the notice of the poor medical system of Kalyan Hospital, the Deputy Commissioner of the district himself inspected the hospital, where along with restoring the necessary medical facilities, he instructed to organize regular health camps, after which This is the second time when the health camp was organized. Regarding organizing the camp, the Deputy Commissioner said that the camp is being organized with the aim of providing better health facilities to the people of remote rural areas so that

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed