May 23, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

कांग्रेस के घोषणापत्र में वित्तीय और संस्थागत सर्वेक्षण करने के वादे पर जमशेदपुर भाजपा ने कांग्रेस पर बोला हमला

1 min read

जमशेदपुर : भाजपा ने कांग्रेस के घोषणा पत्र पर निशाना साधा है। भाजपा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस आर्थिक सर्वेक्षण के नाम पर देश के आम लोगों की संपत्ति हड़पने का सपना देख रही है। वित्तीय और संस्थागत सर्वेक्षण के नाम पर जनता की गाढ़ी कमाई की गयी धन, दौलत, संपत्ति, घर और जमीन जायदाद कांग्रेस और इंडी एलायंस जब्त करने की फिराक में है। बुधवार को भाजपा ने प्रेस-वार्ता कर कांग्रेस द्वारा जारी घोषणापत्र में संपत्ति के सर्वेक्षण किये जाने के वादे पर जमकर हमला बोला। साकची स्थित जमशेदपुर लोकसभा के चुनाव प्रधान कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में झारखंड भाजपा प्रदेश मंत्री सह जमशेदपुर लोकसभा के संयोजक नंदजी प्रसाद ने कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि कांग्रेस के घोषणा पत्र से यह तस्वीर बिल्कुल स्पष्ट झलक रही है कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन की सरकार आने पर आम जनता की संपत्ति, घर, सोना और एफडी कुछ भी सुरक्षित नहीं रहेगा। यही कांग्रेस की तुष्टिकरण का हिडेन एजेंडा है। प्रेस वार्ता के दौरान भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष सुधांशु ओझा, जमशेदपुर लोकसभा के सह संयोजक अनिल सिंह, लोकसभा चुनाव मीडिया प्रबंधन विभाग के अनिल मोदी एवं प्रेम झा मौजूद रहे। नंदजी प्रसाद ने कहा कि देश में लोकसभा चुनावों की प्रक्रिया के दौरान जहां कांग्रेस के कई बड़े नेता विभिन्न स्थानों पर चुनावी रैलियों में वित्तीय और संस्थागत सर्वेक्षण करवाने की बात कर रहे हैं। तो वहीं, कांग्रेस के राजकुमार राहुल गांधी ने सार्वजनिक मंच से देशभर में संपति सर्वेक्षण करवा कर संपत्ति पुनर्वितरण की बात कही है। नंदजी प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस लोगों की पैतृक संपत्ति और बच्चों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए मेहनत से बनाए गए सभी संसाधनों को भी हड़पने का सपना देख रही है और अपने मकसद को पूरा के लिए इसे पुनर्वितरण का नाम दे रही है।

जमशेदपुर लोकसभा संयोजक नंदजी प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के खतरनाक इरादे एक के बाद एक खुलकर सामने आ रहे हैं। शाही परिवार के शहजादे के सलाहकार, शहजादे के पिता जी के भी सलाहकार सैम पित्रोदा ने कुछ समय पहले कहा था कि हमारे देश का जो मिडिल क्लास है, जो मेहनत करके कमाते हैं, उन पर ज्यादा टैक्स लगना चाहिए। अब ये लोग उससे भी एक कदम आगे चले गए हैं। अब कांग्रेस का कहना है कि वो माता-पिता से मिलने वाली विरासत पर भी टैक्स लगाएगी। आप जो अपनी मेहनत से संपत्ति जुटाते हैं, वो आपके बच्चों को नहीं मिलेगी। वो भी कांग्रेस का पंजा आपसे छीन लेगा। नंदजी प्रसाद ने कहा कि बाबा साहब डॉ भीमराव अंबेडकर के नेतृत्व में यह तय किया गया था कि भारत में धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं होगा। आरक्षण होगा तो दलित, आदिवासियों भाइयों के नाम पर होगा, लेकिन वोट बैंक की भूखी कांग्रेस ने इन महापुरुषों की परवाह नहीं की। कांग्रेस ने बहुत पहले आंध्र प्रदेश में धर्म के आधार पर आरक्षण देने का प्रयास किया।

भाजपा जमशेदपुर महानगर अध्यक्ष सुधांशु ओझा ने कांग्रेस को तुष्टिकरण की पोषक बताते हुए कहा कि हमारी पैतृक संपत्ति और अपने बच्चों के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए कड़ी मेहनत से खड़े किए संसाधनों को कांग्रेस और इंडी गठबंधन एक पूर्व नियोजित योजना के तहत जब्त करने की फिराक में है। इसे पूर्व नियोजित योजना इसलिए कहा जा सकता है, क्योंकि अब तक के इतिहास में जब भी कांग्रेस देश की सत्ता पर बैठी है, उसने अपने प्राथमिकता में वोट बैंक की राजनीति को सुरक्षित करने के लिए देशवासियों को एकता के सूत्र में पिरोने की बजाय वर्ग विशेष की परिभाषित करते हुए न केवल उन्हें अधिकांश लाभ पहुंचाने का काम किया। बल्कि देश के सभी नागरिकों के साथ भेदभावपूर्ण रवैया अपनाया है। सुधांशु ओझा ने कहा कि इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा ने अमेरिका का हवाला देते हुए कहा कि 55 फीसदी संपत्ति सरकारी खजाने में जाती है। आज सैम पित्रोदा ने कांग्रेस का मकसद साफ कर दिया है, वो लोगों की निजी संपत्ति सरकारी खजाने में डालकर इसका बंटवारा माइनोरिटी में करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस देश के लोगों की निजी संपत्ति का सर्वेक्षण कर इसे सरकारी संपत्ति में रखना चाहते हैं और यूपीए के शासनकाल के दौरान निर्णय के अनुसार इसे अपने प्रथमिकता में शामिल लोगों में वितरित करेंगे। सुधांशु ओझा ने कहा कि कांग्रेस को इसे अपने घोषणापत्र से वापस लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एनडीए सरकार देशवासियों के संपति पर कोई पंजा पड़ने नही देगी। उन्होंने जमशेदपुर की जनता से आह्वान करते हुए कहा कि शहरवासी कांग्रेस की मानसिकता को गंभीरता से लें और अपने मतों का उपयोग कर ऐसी मानसिकता को धराशायी करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *