April 25, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

*पश्चिम बंगाल में ED के छापे से बचने को बलात्कार का मामला दर्ज अधिकारियों के खिलाफ*

3 min read

पुराना खेल पश्चिम बंगाल राजनीति कापश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। FIR एक महिला का शीलभंग करने की कोशिश और घर में जबरदस्ती घुसने को लेकर करवाई गई है।शाहजहाँ शेख ED हमलाशाहजहाँ शेख (दाएँ) और उसका घर जहाँ ED पर हमला हुआपश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना में प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। यह FIR ED की टीम पर संदेशखाली में हुए हमले के एक दिन बाद दर्ज की गई। इस हमले में ED के कई अधिकारी घायल हुए थे। यह हमला TMC नेता शाहजहाँ शेख के घर तलाशी लेने पहुँची ED की टीम पर हुआ था। जानकारी के अनुसार, ED के अधिकारियों के खिलाफ यह FIR तृणमूल कॉन्ग्रेस के भगोड़े नेता शाहजहाँ शेख के घर की देखभाल करने वाले एक व्यक्ति करवाई है। FIR एक महिला का शीलभंग करने की कोशिश और घर में जबरदस्ती घुसने को लेकर करवाई गई है।गौरतलब है कि 5 जनवरी, 2024 को पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले के संदेशखाली में राशन घोटाले में संलिप्त TMC नेता और जिला परिषद सदस्य शाहजहाँ शेख के घर तलाशी लेने गई थी। यहाँ पर ED की टीम और उनके साथ गए CRPF के सुरक्षाकर्मियों पर शाहजहाँ शेख के गुंडों ने हमला कर दिया।इस हमले में कुछ ED अधिकारियों को गंभीर चोटें आईं। ED के अधिकारियों की गाड़ियाँ भी तोड़ दी गईं और उनके फ़ोन, पर्स और लैपटॉप आदि भी छीन लिए गए। ED का कहना है कि यह हमला शाहजहाँ शेख के भड़कावे पर हुआ था। इस हमले के बाद राज्य के विपक्ष ने बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने की माँग की थी। ED पर हमले के बाद उसी के अधिकारियों के खिलाफ FIR भी करवा दी गई। राज्य में बीते दिनों में केन्द्रीय एजेंसियों का काम करना काफी मुश्किल हो रहा है। ED पर बंगाल में हुए हमले के बाद तीन FIR दर्ज हुई हैं। एक FIR ईडी के खिलाफ जबकि बाकी दो हमला करने वालों के खिलाफ दर्ज हुई हैं। ED पर हमला करवाने वाला शाहजहाँ शेख अभी भी फरार है। शक है कि वह बांग्लादेश भाग सकता है। उसका एक कथित ऑडियो टेप भी सामने आया है। इसमें उसने कहा है कि ED और CBI से डरना नहीं है। उसका कहना है कि ममता बनर्जी ने उन सबके लिए संदेशखाली में काम किया है।शाहजहाँ शेख द्वारा करवाए गए हमले में घायल ED के दो अधिकारियों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है जबकि एक अभी स्थिर हालत में अस्पताल में भर्ती हैं। इस हमले के एक दिन बाद शनिवार को भी ED पर बंगाल में राशन घोटाले की जाँच के दौरान हमला हुआ। TMC नेता शंकर आद्या की गिरफ्तारी के दौरान भी ED की टीम को निशाना बनाया गया।कुछ दिन पहले ही ईडी ने पश्चिम बंगाल में राशन घोटाले का खुलासा किया था। इसके तहत सार्वजनिक वितरण प्रणाली का लगभग 30% राशन खुले बाज़ार में बेचा गया था। राशन की इस कथित चोरी से हुए फायदे को मालिकों और PDS वितरकों ने मिलकर आपस में बाँट लिया था।

The old game of West Bengal politics: An FIR has been registered against officials of the Enforcement Directorate in North 24 Parganas of West Bengal. FIR has been lodged for attempting to outrage the modesty of a woman and forcefully entering her house. Shahjahan Sheikh ED attack Shahjahan Sheikh (right) and his house where ED attacked. FIR registered against officials of Enforcement Directorate in North 24 Parganas, West Bengal. Has been. This FIR was registered a day after the attack on the ED team in Sandeshkhali. Many ED officers were injured in this attack. This attack took place on the ED team that had reached the house of TMC leader Shahjahan Sheikh to search. According to the information, this FIR against ED officials has been lodged by a person taking care of the house of fugitive Trinamool Congress leader Shahjahan Sheikh. FIR has been lodged for attempting to outrage the modesty of a woman and forcibly entering her house. It is noteworthy that on January 5, 2024, TMC leader and Zilla Parishad member Shahjahan Sheikh, involved in the ration scam, was arrested in Sandeshkhali in North 24 Parganas district of West Bengal. Had gone to search the house. Here the ED team and the CRPF security personnel accompanying them were attacked by Shahjahan Sheikh’s goons. Some ED officers suffered serious injuries in this attack. The vehicles of ED officials were also vandalized and their phones, purses and laptops etc. were also snatched. ED says that this attack took place on the instigation of Shahjahan Sheikh. After this attack, the opposition in the state had demanded imposition of President’s rule in Bengal. After the attack on ED, an FIR was also lodged against its officials. In recent times, it is becoming very difficult for the central agencies to work in the state. Three FIRs have been registered against ED after the attack in Bengal. One FIR has been registered against the ED while the remaining two have been registered against the attackers. Shahjahan Sheikh, who organized the attack on ED, is still absconding. There is suspicion that he may flee to Bangladesh. An alleged audio tape of his has also surfaced. In this he has said that there is no need to be afraid of ED and CBI. He says that Mamata Banerjee has worked for all of them in Sandeshkhali. Two ED officers injured in the attack carried out by Shahjahan Sheikh have been discharged from the hospital while one is still admitted in the hospital in a stable condition. this attack A day after this, on Saturday also ED was attacked while investigating the ration scam in Bengal. The ED team was also targeted during the arrest of TMC leader Shankar Aadya. Just a few days ago, ED had exposed the ration scam in West Bengal. Under this, about 30% of the ration of the public distribution system was sold in the open market. The profit from this alleged theft of ration was divided among themselves by the owners and PDS distributors.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *