June 17, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

प्रमंडलीय आयुक्त और पुलिस उपमहानिरीक्षक के संयुक्त अध्यक्षता में रामनवमी पर्व की विधि-व्यवस्था से संबंधित बैठक आयोजित

1 min read

आज प्रमंडलीय आयुक्त सिंहभूम ”कोल्हान”और पुलिस उपमहानिरीक्षक कोल्हान रेंज की संयुक्त अध्यक्षता में ऑनलाइन माध्यम से प्रमंडल के तीनों जिलों में रामनवमी पर्व के विधि- व्यवस्था संधारण हेतु बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य रूप से जिला उपायुक्त पश्चिम सिंहभूम, उपायुक्त पूर्वी सिंहभूम, उपायुक्त सरायकेला खरसावां, वरीय पुलिस अधीक्षक पूर्वी सिंहभूम, पुलिस अधीक्षक पश्चिम सिंहभूम, पुलिस अधीक्षक सरायकेला खरसावां, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक विशेष शाखा, पेयजल एवं विद्युत विभाग के पदाधिकारी सहित अन्य मुख्य रूप से उपस्थित रहें।

प्रमंडलीय आयुक्त के द्वारा क्रमवार प्रमंडल अंतर्गत तीनों जिले के उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक से अपने-अपने जिले में किए जा रहे रामनवमी पर्व की विधि व्यवस्था के सम्बंध में जानकारी ली गई। जिसमें उपायुक्त सरायकेला खरसावां श्री अरवा राजकमल के द्वारा जानकारी दिया गया कि सरायकेला खरसावां जिले में सभी अखाड़ों के प्रतिनिधियों के साथ शांति समिति की बैठक पूर्ण कर लिया गया है। जिले में कुल 03 कंट्रोल रूम पदस्थापित किए गए हैं, जिसमें 03 पालियों में मॉनिटरिंग हेतु पदाधिकारी और कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है। जुलूस के दिन जुलूस वाले मार्ग पर ड्रोन कैमरे की मदद से निगरानी रखी जाएगी साथ ही साथ आवश्यकता अनुसार अस्थाई सीसीटीवी कैमरा भी लगाया जा रहा है। उपायुक्त सरायकेला खरसावां के द्वारा बताया गया कि सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर रखी जा रही है। किसी भी प्रकार के भड़काऊ मैसेज/ वीडियो/ फोटो भेजना या शेयर करने पर संबंधित ग्रुप के एडमिन और संबंधित व्यक्ति पर दंडात्मक कार्रवाई भी की जाएगी।

उपायुक्त पूर्वी सिंहभूम श्रीमती विजया जाधव के द्वारा जानकारी दिया गया कि जिले में सभी शांति समिति की बैठक संपन्न की जा चुकी है। शहर में लाइट सड़क के किनारे बिछाए गए पेवर्स ब्लॉक की मरम्मती के साथ-साथ नालों की साफ सफाई की जा रही है। जुलूस के मार्ग पर जहां सीसीटीवी कैमरे मौजूद नहीं है, वहां पर अस्थाई सीसीटीवी कैमरे लगाए जा रहे हैं। जुलूस के मार्ग पर आवश्यकता अनुसार बैरिकेडिंग किया जा रहा है, ताकि ट्रैफिक व्यवस्था सुचारू रहे। कुल 15 ड्रोन कैमरा की मदद से निगरानी की जाएगी। जरूरत के अनुसार पेड़ों की छटनी की जा रही है, ताकि किसी आपरिहार घटना से बचा जा सके। जगह- जगह पर मोबाइल मेडिकल यूनिट भी उपलब्ध कराया जा रहा है।

उपायुक्त पश्चिम सिंहभूम श्री अनन्य मित्तल के द्वारा जानकारी दिया गया कि जिले में शांति समिति की बैठक पूर्ण किया जा चुका है। कंट्रोल रूम पदस्थापित किया गया है, जिसमें तीन पालियों में पदाधिकारी और कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है, सोशल मीडिया पर विशेष रूप से पैनी नजर रखी जा रही है किसी भी प्रकार के भड़काऊ मैसेज/ फोटो/ वीडियो शेयर करने वाले पर उचित दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि उनके और पुलिस अधीक्षक के द्वारा संयुक्त रूप से जुलूस वाले मार्ग का जांच किया जा रहा है, मार्ग में किसी भी प्रकार के ईटा/ पत्थर इत्यादि को मार्ग से हटाने हेतु निर्देशित किया गया है। विशेष शाखा के द्वारा संवेदनशील स्थानों पर टीम का गठन कर जांच किया जा रहा है। ड्रोन कैमरे की व्यवस्था जिले के तीनों अनुमंडल में किया गया है। जुलूस के साथ- साथ पुलिस बल और मजिस्ट्रेट की प्रतिनियुक्ति की गई है।

प्रमंडलीय आयुक्त के द्वारा सभी उपायुक्त को निर्देशित किया गया कि चिन्हित जुलूस के मार्ग की जाँच करेगे। मार्ग में मौजूद सीसीटीवी कैमरे की जांच करेंगे और आवश्यकता अनुसार अस्थाई सीसीटीवी कैमरा लगाने का कार्य करेंगे। जरूरत के अनुसार जुलूस के मार्ग पर बैरीकेटिंग करने का कार्य करेंगे ताकि भी प्रकार का ट्रैफिक जाम से बचा जा सके। उन्होंने सभी उपायुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि जुलूस की निगरानी ड्रोन कैमरे की मदद से अवश्य करेंगे साथ ही साथ भड़काऊ गाने और सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर रखेंगे किसी भी प्रकार की आसामाजिक अफवाह फैलाने वाले व्यक्ति विशेष पर विधि सम्मत कार्रवाई करना भी सुनिश्चित करेंगे। प्रमंडलीय आयुक्त ने सभी उपायुक्त को निर्देशित करते हुए कहा कि सभी उपायुक्त अपने स्तर से आदेश निर्गत करेंगे कि 28 मार्च से 31 मार्च तक कोई भी पदाधिकारी और कर्मचारी जिला मुख्यालय छोड़कर नहीं जा सकता है। विशेष परिस्थिति पर उपायुक्त के अनुमोदन के पश्चात ही उन्हें छुट्टी प्रदान की जाएगी।

========================
*Team PRD West Singhbhum, Chaibasa

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *