June 25, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

Budget 2023: कस्टम ड्यूटी में कमी कर सरकार ने खेला दांव, रोजगार को मिलेगा सहारा

2 min read

नई दिल्ल: बिजनेस डेस्क। बजट 2023 में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से सभी सेक्टरों को लेकर कुछ न कुछ घोषणाएं की गई हैं। सरकार की कोशिश रही कि सेक्टरों को उचित समर्थन दिया जाए, जिससे देश की अर्थव्यवस्था की तेजी गति को सुनिश्चित किया जा सके।
निर्यातकों ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कुछ वस्तुओं पर कस्टम ड्यूटी कम होने, MSMEs को समर्थन करने के लिए किए गए एलान से देश की मैन्युफैक्चरिंग को सहारा मिलेगा।

पूंजीगत व्यय से मिलेगा सहारा
बजट में सरकार की ओर से पूंजीगत व्यय को 33 प्रतिशत बढ़ाकर 10 लाख रुपये कर दिया गया है। इसके साथ बुनियादी ढांचे में निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए राज्यों को 50 साल का ब्याज मुक्त कर्ज, रेलवे के लिए सबसे अधिक पूंजी व्यय करने, पोर्ट, कोल और स्टील सेक्टर में निवेश बढ़ने का असर अर्थव्यवस्था में दिखेगा और बड़ी संख्या में रोजगार पैदा होंगे।

विश्व व्यापार में बढ़ेगी हिस्सेदारी
निर्यात और आयात पर सीआईआई राष्ट्रीय समिति के अध्यक्ष और पैटन समूह के प्रबंध निदेशक संजय बुधिया ने कहा कि चुनिंदा क्षेत्रों के लिए कस्टम ड्यूटी में कमी की घोषणा से ग्लोबल वैल्यू चैन (GVC) में भारत की भागीदारी को बढ़ेगी। इसके मोबाइल के कुछ पार्ट्स पर कस्टम ड्यूटी घटने से मैन्युफैक्चरिंग को फायदा होगा!

निर्यातकों को मिलेगा सहारा
FIEO के पूर्वी रीजन के चेयरमैन योगेश गुप्ता ने कहा कि 9,000 करोड़ रुपये की क्रेडिट गांरटी स्कीम और MSME के लिए एक प्रतिशत की छूट से निर्यातकों को बड़ा सहारा मिलेगा। श्रिम्प फीड पर आयात शुल्क बढ़ने से पूर्वी तट पर मरीन प्रोडक्ट के निर्यात को बढ़ावा मिलेगा।

New Delhi: Business Desk. In Budget 2023, some announcements have been made by Finance Minister Nirmala Sitharaman regarding all the sectors. It has been the endeavor of the government to provide proper support to the sectors, so that the rapid growth of the country’s economy can be ensured.
Reacting to the budget, exporters said that reduction in custom duty on some items, announcement made to support MSMEs will give a boost to the country’s manufacturing.

Will get support from capital expenditure
In the budget, capital expenditure has been increased by 33 percent to Rs 10 lakh from the government. With this, 50-year interest-free loans to states to encourage investment in infrastructure, maximum capital expenditure for railways, increased investment in port, coal and steel sectors will be seen in the economy and a large number of jobs will be created. .

Share in world trade will increase
Sanjay Budhia, Chairman, CII National Committee on Exports and Imports and Managing Director, Patton Group, said that the announcement of reduction in custom duty for select sectors will enhance India’s participation in the Global Value Chain (GVC). Manufacturing will benefit from the reduction in custom duty on some parts of its mobiles.

Exporters will get support
Yogesh Gupta, chairman of FIEO’s eastern region, said the Rs 9,000 crore credit guarantee scheme and one per cent rebate for MSMEs would go a long way in helping exporters. The increase in import duty on shrimp feed will give a boost to the export of marine products on the east coast.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *