March 1, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

ख्वाहिश को पूरा करने के लिए दूल्हा आया हेलीकॉप्टर से

1 min read
0 Shares

 हरियाणा से हेलिकॉप्टर में राजस्थान विदा हुई दुल्हन : जयपुर से बारात लेकर महेंद्रगढ़ पहुंचा दूल्हा*

*हरियाणा :* महेंद्रगढ़ जिला के अटेली खंड के गांव भोजावास में एक दूल्हा अपनी दुल्हन को हेलिकॉप्टर से विदा करके ले गया। दूल्हे के पिता ने बताया उनके बेटे की दिल से इच्छा थी कि उसकी दुल्हन मंडप से हेलिकॉप्टर में विदा होकर घर आए। बेटे की ख्वाहिश को पूरा करने के लिए लाखों रुपए खर्च कर दिए।
गांव भोजावास में रात को हुई इस शाही शादी के बाद विदाई भी शाही अंदाज में देखने को मिली। इस शादी को लेकर भोजावास सहित आसपास के गांवों में पहले से ही चर्चा फैली हुई थी। शादी के बाद दुल्हन को दूल्हा विदाई के बाद दुल्हन को हेलिकॉप्टर में उड़ा कर ले गया।
सोनिया और राहुल शेखावत हेलिकॉप्टर से रवाना हो गए।
सोनिया और राहुल शेखावत हेलिकॉप्टर से रवाना होते हुए।
जयपुर से आयी थी बारात
गांव भोजावास निवासी शेर सिंह की बेटी सोनिया तंवर का विवाह राहुल सिंह शेखावत वासी लोहखाना जिला जयपुर के साथ 6 फरवरी को हुआ। उनकी विदाई 7 फरवरी को सुबह 10 बजे की तय थी। दुल्हन को लेने के लिए हेलिकॉप्टर आया। भोजावास से दुल्हन हेलिकॉप्टर से विदा हुई।
*हेलिकॉप्टर देखने उमड़ी भीड़*
गांव भोजावास से उड़ान भरने से पहले हेलिकॉप्टर को देखने के लिए गांव में बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ उमड़ी। गांव में हेलिकॉप्टर को उतारने के लिए अलग से व्यवस्था की गई थी। दुल्हन की विदाई के दौरान सेल्फी लेने वालों की भीड़ जमा हो गई। ज्यादातर महिलाएं और बच्चे हेलिकॉप्टर और दूल्हे के साथ सेल्फी लेते नजर आए।
हरियाणा के रेवाड़ी में एक युवक ने अपने बचपन का सपना पूरा करने के लिए शादी के मौके पर दुल्हन को हेलिकॉप्टर से लाने के लिए गांव मंदौला पहुंचा। दूल्हा-दुल्हन के गांव की दूरी भले ही कुछ किलोमीटर की है, लेकिन दूल्हे को सपना पूरा करना था। गांव में हेलिकॉप्टर पहुंचते ही देखने के लिए ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी​​​​​​​ |


Haryana :In village Bhojawas of 
Ateli block of Mahendragarh district,
 a groom took his bride away by helicopter.
 The groom's father told that his son had a
 heartfelt desire that his bride should leave 
the mandap in a helicopter and come home. 
Spent lakhs of rupees to fulfill the wish of the son.
After this royal wedding that took place at night in 
village Bhojawas, the farewell was also seen in royal style. 
The discussion about this marriage had already spread in the 
surrounding villages including Bhojawas.
0 Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0 Shares