Recent Posts

June 19, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

उद्धव का दर्द देख ठंडा हुआ कंगना रनौत का कलेजा! अपनी ‘भविष्यवाणी’ याद दिला बोलीं- स्त्री का अपमान करने वाले…

2 min read

मुंबई: निर्वाचन आयोग ने शिवसेना पार्टी और उसके चुनाव चिन्ह ‘धनुष-तीर’ पर हक को लेकर एकनाथ शिंदे और उद्धव ठाकरे गुट के बीच विवाद पर अपना फैसला सुना दिया है. ईसीआई ने शिवसेना और उसके सिंबल को शिंदे गुट के साथ बरकरार रखा है. इस तरह उद्धव ठाकरे को अपने पिता बालासाहेब ठाकरे द्वारा स्थापित पार्टी गंवानी पड़ गई है. शिवसेना पर अधिकार की लड़ाई में शिंदे गुट की जीत पर अभिनेत्री कंगना रनौत ने भी प्रतिक्रिया दी है. कंगना के एक पुराने ट्वीट को रिट्वीट करते हुए बीइंग ह्यूमर नाम के ट्विटर हैंडल ने लिखा, ‘कंगना की भविष्यवाणी सच हुई. उन्हें ऐसे ही क्वीन नहीं कहा जाता.’ इसके जवाब में कंगना ने लिखा, ‘भले ही मैंने किया…लेकिन यह भविष्यवाणी नहीं थी, सिर्फ कॉमन सेंस की बात थी.’ कंगना का पुराना ट्वीट था, ‘जो साधुओं की हत्या और स्त्री का अपमान करे उसका पतन निश्चित है.’ अपने इस ट्वीट में कंगना ने हैशटैग के साथ पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह, अनिल देशमुख, उद्धव ठाकरे और संजय राउत के नाम भी लिखे थे.

कंगना के इस जवाब पर ब्रैंड एजेंसी नाम के ट्विटर हैंडल ने रिप्लाई किया, ‘यही आपका पॉजिटिव एटिट्यूड जो है, वही आपकी सबसे बड़ी ताकत है. क्योंकि वक्त आपके साथ हो या नहीं हो, आप अन्याय को किस्मत समझ स्वीकार नहीं करतीं. ऐसा बहुत कम लोगों में होता है. इसे कभी बदलने मत देना.’ इस पर कंगना ने जवाब देते हुए लिखा, ‘कुकर्म करने से तो देवताओं के राजा इन्द्र भी स्वर्ग से गिर जाया करते हैं, वह तो सिर्फ एक नेता है, जब उसने अन्याय पूर्व मेरा घर तोड़ा था, मैं समझ गई थी, य​ह शीघ्र ही गिरेगा, देवता अच्छे कर्मों से उठ सकते हैं, लेकिन स्त्री का अपमान करने वाले नीच मनुष्य नहीं…यह अब कभी उठ नहीं पाएगा.’ आपको बता दें कि गत दो वर्षों के दौरान उद्धव ठाकरे और उनके करीबियों से काफी अदावत रही है. इसकी शुरुआत सुशांत सिंह राजपूत की कथित आत्महत्या के बाद हुई थी.

कंगना का सीधे तौर पर आरोप रहा है कि सुशांत ने आत्महत्या ने की थी बल्कि उनकी हत्या हुई थी और उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली तत्कालीन महा विकास अघाड़ी सरकार ने इस केस को दबा दिया. उद्धव सेना पर उनके इन्हीं आरोपों के बाद बीएमसी ने कंगना के मुंबई स्थित घर पर बुल्डोजर चला दिया था और संजय राउत ने अभिनेत्री पर विवादित टिप्पणी की थी. घर टूटने पर कंगना ने एक वीडियो संदेश जारी कर उद्धव ठाकरे और उनके करीबी नेताओं पर निशाना साधा था. बीते दो वर्षों के दौरान उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद के साथ पार्टी भी गंवानी पड़ी. शिवसेना में शिंदे गुट की बगावत के बाद एमवीए सरकार गिर गई. शिंदे गुट ने बीजेपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र में नई सरकार का गठन किया. महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री और एनसीपी नेता अनिल देशमुख को मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में जेल की हवा खानी पड़ी. संजय राउत भी पात्रा चॉल घोटाले में जेल गए. वहीं, पूर्व मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को अपना पद गंवाना पड़ा और वह भी जांच का सामना कर रहे हैं.

Mumbai: The Election Commission has given its verdict on the dispute between the Eknath Shinde and the Uddhav Thackeray faction over the Shiv Sena party and its election symbol ‘bow and arrow’. The ECI has retained the Shiv Sena and its symbol along with the Shinde faction. In this way, Uddhav Thackeray has lost the party established by his father Balasaheb Thackeray. Actress Kangana Ranaut has also reacted to the victory of the Shinde faction in the battle of rights over Shiv Sena. Retweeting an old tweet of Kangana, the Twitter handle named Being Humor wrote, ‘Kangana’s prediction came true. She is not called queen just like that. In response, Kangana wrote, “Even though I did… but it was not a prediction, it was just a matter of common sense.” Insults, his downfall is certain.’ In this tweet, Kangana had also written the names of former Mumbai Police Commissioner Parambir Singh, Anil Deshmukh, Uddhav Thackeray and Sanjay Raut along with the hashtag.

To this reply of Kangana, the Twitter handle named Brand Agency replied, ‘This is your positive attitude, that is your biggest strength. Because whether time is on your side or not, you do not accept injustice as luck. This happens in very few people. Never let it change.’ To this, Kangana replied, ‘Even Indra, the king of the gods, falls from heaven because of misdeeds, he is just a leader, when he broke my house unjustly, I Understood, it will fall soon, Gods can rise with good deeds, but not lowly humans who insult women… It will never rise again. Let us tell you that during the last two years, Uddhav Thackeray and his There has been a lot of enmity with the close ones. It started after the alleged suicide of Sushant Singh Rajput.

Kangana has directly alleged that Sushant had committed suicide rather he was murdered and the then Maha Vikas Aghadi government led by Uddhav Thackeray suppressed the case. After these allegations on Uddhav Sena, BMC had run a bulldozer at Kangana’s Mumbai house and Sanjay Raut had made controversial remarks on the actress. Kangana released a video message on the breakdown of the housel

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed