April 23, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

कुचाई प्रखण्ड के उत्क्रमित उच्च विद्यालय अरुवां में प्रार्थना सभा में बच्चों दिये गये विशेष शिक्षा।

1 min read

प्रार्थना सभा में प्रेरक प्रसंग सुनाकर बच्चों में सकारात्मक ऊर्जा भरा जा सकता है। आज प्रार्थना सभा में तरूण सर ने कहा आज के बच्चे जीवन में दबाब को झेल नहीं पा रहे हैं, छोटे छोटे समस्याओं से डिप्रेशन में चले जाते हैं । कई बच्चे नकारात्मक विचारों में इतना उलझ जाते हैं कि या तो गलत रास्ते पर चले जाते हैं या मादक पदार्थों का सेवन करने लगते हैं। कुछ बच्चे तो डिप्रेशन के कारण आत्महत्या तक कर लेते हैं। इसलिए जरुरी है इन्हें प्रेरक प्रसंग, राष्ट्र गौरव की बातें , सकारात्मक प्रेरणाप्रद बातें बताई जाय।

 

Positive energy can be filled in the children by narrating motivational episodes in the prayer meeting. Today in the prayer meeting, Tarun Sir said that today’s children are not able to bear the pressure in life, they go into depression due to small problems. Many children get so engrossed in negative thoughts that they either go on the wrong path or take drugs. Some children even commit suicide due to depression. That’s why it is necessary that they should be told inspirational stories, things of national pride, positive inspirational things.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *