Recent Posts

June 19, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

हो भाषा की आठवी अनुसूची में सूचीबद्ध कराने की लेकर राष्ट्रपति से मिला प्रतिनिधि मंडल

1 min read

खरसावां ही भाषा की आठवी अनुसूची में सुचीबद्ध कराने हेतु आदिवासी हो समाज महासभा के एक प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति भवन दिल्ली में देश के राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से मुलाकात की आदिवासी हो समाज के केंद्रीय अध्यक्ष कृष्ण चंद्र बोदरा के नेतृत्व में देश के राष्ट्रपति के साथ मुलाकात कर सामाजिक विकास पर लंबी चर्चा की गई महामहिम राष्ट्रपति ने महासभा के प्रतिनिधियों को सुझाव भी दिया की कैसे हो भाषा को आठवीं अनुसूची में सूचीबद्ध करना है और उसकी प्रक्रिया कैसे पूरी करनी है अब बहुत जल्दी उसकी प्रक्रियाओं को शुरू किया जाएगा बताया कि जिस दिन वह भाषा बारड क्षिति लिपि भारतीय संविधान के आठवीं अनुसूची में सूचीबद्ध होगी उसी दिन आदिवासियों की प्राचीन महान सभ्यता जैसे सुमेर, मेसोपोटामिया मित्र सिंधु चीन ग्रेक रीम, आदि जो कि 50,000 साल पहले विकसित हुई थी, वे दुनिया के सामने उजागर हीगी जी भारत के लिए गर्व की बात होगी राष्ट्रपति से मुलाकात करने वाले समाज की प्रतिनिधियों में केंद्रीय महासचिव तिरिल तिरीया, उड़ीसा प्रभारी मनोरंजन तिरिया, बिरसा कीडाकल, पुरुषीतम गागराई, बुधलाल कुडू, शामिल थे

A delegation of Adivasi Ho Samaj Mahasabha met the President of the country Draupadi Murmu at Rashtrapati Bhavan Delhi to get Kharsawan language listed in the Eighth Schedule Social Development But there was a long discussion, His Excellency the President also suggested to the representatives of the General Assembly that how to list the language in the Eighth Schedule and how to complete its process, now very soon its processes will be started and told that the day that language will be bard. The script will be listed in the Eighth Schedule of Indian Constitution on the same day ancient great civilization of tribals like Sumer, Mesopotamia friend Sindhu China Greek Rim, etc which developed 50,000 years ago will be exposed to the world it will be a matter of pride for India The representatives of the society who called on the President included Union General Secretary Tiril Tiriya, Orissa in-charge Manoranjan Tiriya, Birsa Kidakal, Purushitam Gagarai, Budhlal Kudu,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *