June 17, 2024

INDIA FIRST NEWS

Satya ke saath !! sadev !!

Jamshedpur Crime: वर्षा पटेल हत्याकांड में कोर्ट ने सुनाया फैसला, दोषी ASI को आजीवन कारावास

2 min read

जमशेदपुर,  झारखंड में प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश अनिल कुमार मिश्रा के न्यायालय में जमशेदपुर शहर के चर्चित वर्षा पटेल की हत्या मामले में दोषी साकची थाना के ASI (सहायक अवर निरीक्षक) धमेंद्र कुमार सिंह को आजीवन कारावास और 30 हजार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई।आरोपित को भादवि की धारा 201 (हत्या का साक्ष्य छुपाने) में दोषी पाते हुए 7 साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई। 20 हजार रुपये जुर्माना लगाया। सभी सजाएं साथ-साथ चलेंगी। अभियोजन पक्ष की ओर से प्रभारी लोक अभियोजक ओम कुमार और वरीय अधिवक्ता विद्या सिंह बहस कर रहे थे।

क्या था पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक बिष्टुपुर थाना क्षेत्र के साउथ पार्क निवासी वर्षा पटेल 12 नवंबर, 2021 को अपने घर से रहस्यमय ढंग से लापता हो गई थी, जिसके बाद थाने में लापता होने की सूचना दी गई। 18 नवंबर, 2021 को वर्षा पटेल का शव टेल्को के तार कंपनी तालाब में बरामद हुआ, जिसे प्लास्टिक के बोरे में बंद कर फेंका गया था।

मृतका की बहन जया की शिकायत पर धमेंद्र कुमार सिंह के विरुद्ध अपहरण कर हत्या करने और हत्या का साक्ष्य छुपाने और शव को फेंक देने की प्राथमिकी टेल्को थाना में दर्ज कराई गई थी।

दोषी को सजा दिलाने में किया संघर्ष

वर्षा पटेल की मां लक्ष्मी पटेल ने कहा कि बेटी तो अब वापस नहीं आ सकती, लेकिन बेटी के हत्यारे को सजा दिलाने में काफी संघर्ष करना पड़ा। न्याय मिलेगा, भरोसा था। सभी का सहयोग मिला। बेटी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही थी। बेटी की हत्या मामले में कुछ गलत टिप्पणी की गई थी जो स्वजनों के लिए पीड़ादायक थी। बावजूद बेटी को न्याय दिलाने में हमलोग तत्पर रहे।

In Jamshedpur, Jharkhand, Principal District and Sessions Judge Anil Kumar Mishra sentenced ASI (Assistant Sub-Inspector) Dharmendra Kumar Singh of Sakchi Police Station to life imprisonment and a fine of Rs 30,000 in the murder case of famous Varsha Patel of Jamshedpur city. The accused was found guilty of IPC section 201 (concealment of evidence of murder) and sentenced to 7 years rigorous imprisonment. Fined Rs 20,000. All the sentences will run concurrently. In-charge Public Prosecutor Om Kumar and senior advocate Vidya Singh were arguing on behalf of the prosecution.

what was the whole matter

According to the information, Varsha Patel, a resident of South Park of Bishtupur police station area, mysteriously went missing from her house on November 12, 2021, after which she was reported missing in the police station. On November 18, 2021, Varsha Patel’s dead body was found in Telco’s wire company pond, which was thrown in a plastic sack.

On the complaint of Jaya, the sister of the deceased, an FIR was registered against Dharmendra Kumar Singh for abducting and killing and hiding the evidence of the murder and throwing the dead body at the Telco police station.

Struggled to punish the guilty
Varsha Patel’s mother Lakshmi Patel said that the daughter cannot come back now, but had to struggle a lot to get the daughter’s killer punished. Justice will be done, I was sure. Everyone’s cooperation was received. Daughter was preparing for competitive exam. Some wrong remarks were made in the daughter’s murder case which was painful for the relatives. Despite this, we remained ready to get justice for our daughter.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *